खीरा का कड़वापन किस कारण से होता है और इसे कैसे दूर करें

kheera kadwa kyu hota hai, kheere ka kadwapan kaise dur kare

 

हम जब भी खीरा लाते हैं तो उसे खाने से पहले उसका प्रारम्भिक भाग काट के या रगड़ कर फेंक देते हैं। 

क्योंकि खीरे का वह हिस्सा बहुत ही कड़वा होता है। अगर हम खीरे का वह कड़वा हिस्सा अधिक मात्रा में खा लें तो हम बीमार भी पड़ सकते हैं। 

आईए जानते हैं की खीरे में ऐसा क्या होता है जिसकी वजह से उसका प्रारंभिक हिस्सा कड़वा होता है और हानिकारक भी होता है।


खीरे में कड़वापन का मुख्य कारण Why Some Cucumber Is Bitter


खीरा Cucurbitaceous फैमिली से संबंधित होता है। 
 
Cucurbitaceous फैमिली से संबंधित जयदातार पौधे के फल स्वाद में हल्के कड़वे होते हैं जैसे करेला, तरोई, लौकी ईत्यादि।  
 
Cucurbitaceous फैमिली से संबंधित पौधों में एक विशेष प्रकार का रसायन पाया जाता है जिसे Cucurbitacins कहा जाता है। 
 
इसी रसायन के कारण खीरा का प्रारंभिक हिस्सा कड़वा होता है। 
 
अगर आपने कड़वा खीरा खा लिया तो ये आपको बीमार भी कर सकता है।
 
इसलिए आपको खीरे का कड़वा भाग फेंक देना चाहिए। 
 
इसके कड़वे भाग को खाने से उल्टी, दस्त और जी मचलाना जैसे लक्षण हो सकते हैं।

खीरे कड़वे होने के अन्य कारण भी हैं


खीरे के कड़वे होने के कई अन्य कारण भी हैं जैसे अगर पानी की कमी हो तो भी खीरा कड़वा हो जाता है। 
 
जिस भूमी में खीरे की खेती हो रही हो उस भूमि में समुचित मात्रा में पोषक तत्व ना होने से भी खीरे कड़वे हो जाते हैं। 
 
सही से धूप ना मिलना भी एक कारण होता है खीरे के कड़वा होने का। 
 
खीरे को जायदा पक जाने देना भी खीरे को कड़वा कर देता है।

खीरे की कड़वाहट को कैसे कम करें


खीरा खाते वक्त जब कभी कोई खीरा कड़वा निकल जाता है तो पूरा मुंह का स्वाद खराब हो जाता है। 
 
तो खीरे की कड़वाहट दूर करने के लिए आपको बताते हैं की क्या करना चाहिए।
 
खीरे की कड़वाहट दूर करने के लिए आपको इसका इस्तेमाल करने से पहले इसका ऊपर का भाग काट के रगड़ दें। 
 
ऐसा करने से इसके काफी केमिकल निकल जाते हैं और कड़वाहट कम हो जाती है। 
 
इसके अलावा खीरे को दो लंबे भाग में काट कर नमक लगा कर रगड़ने से एक सफेद झाग सा निकलता है जिसके कारण इसका कड़वापन दूर हो जाता है।
 
खीरे के दोनो छोर को काट कर निकाल दें और इसके बाद इसके छिलके उतार लें। 
 
छिलके उतारने के बाद फोर्क (fork) से इसमें कई सारे छेद कर दें। 
 
इससे खीरे का कड़वापन खत्म हो जायेगा और आप इसे धुल कर खा सकते हैं।
 
 
 
👇👇👇
 
👇👇👇

Lav Tripathi

Lav Tripathi is the co-founder of Bretlyzer Healthcare & www.capejasmine.org He is a full-time blogger, trader, and Online marketing expert for the last 10 years. His passion for blogging and content marketing helps people to grow their businesses.

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने